अपने साथी एडवोकेट से परेशान होकर महिला एडवोकेट ने कर लिया  सुसाइड, पढ़े

अपने साथी एडवोकेट से परेशान होकर महिला एडवोकेट ने कर लिया  सुसाइड, पढ़े

महिला एडवोकेट द्वारा साथी एडवोकेट से परेशान होकर पंखे से लटककर सुसाइड करने का मुद्दा सामने आया है. महिला एडवोकेट ने सुसाइड से पहले एक पेज का सुसाइड नोट भी छोड़ा है

 इस सुसाइड नोट में उसने अपने साथी एडवोकेट पर परेशान करने व विवाह का झांसा देकर संबंध बनाने का आरोप लगाया है. पुलिस ने महिला एडवोकेट के पिता की शिकायत पर मंगलवार को सदर थाने में मुद्दा दर्ज कर लिया है. हालांकि, अभी तक आरोपी एडवोकेट की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, सोमवार दोपहर को सूचना मिली थी कि सेक्टर-38 स्थित एक पीजी में एक युवती ने पंखे से लटककर सुसाइड कर ली. मौके पर पहुंची टीम ने कमरा खोलकर मृत शरीर को पंखे से नीचे उतारा व कमरे की जाँच की गई. कमरे में पुलिस को युवती द्वारा लिखा गया सुसाइड नोट भी मिला. जिसमें युवती ने अपने साथी एडवोकेट पर परेशान करने का आरोप लगाते हुए सुसाइड करने की बात लिखी है. उसके बाद पुलिस ने युवती के पिता को घटना की सूचना दी.

पिता ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह चंडीगढ़ पुलिस में इंस्पेक्टर हैं व परिवार के साथ वहीं पर रहते हैं. उनकी बेटी पिछले तीन वर्ष से गुरुग्राम के पीजी में रह रही थी व गुरुग्राम न्यायालय में वकालत कर रही थी. उन्होंने बताया कि सोमवार शाम को उनको गुरुग्राम पुलिस से सूचना मिली कि बेटी ने सुसाइड कर ली है. पुलिस को दी शिकायत में बोला कि उनकी बेटी ने साथी एडवोकेट से परेशान होकर सुसाइड की है. उन्होंने आरोप लगाते हुए बोला कि आरोपी एडवोकेट ने उनकी बेटी को विवाह का झांसा देकर शारीरिक संबंध भी बनाए. बेटी इसी कारण परेशान थी व उसी के कारण उसने  सुसाइड की है.

सदर थाना प्रभारी दिनेश यादव ने बताया कि शिकायत पर मुद्दा दर्ज कर लिया गया. मृतक के मृत शरीर का पोस्टमॉर्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है. महिला एडवोकेट ने सुसाइड से पहले सुसाइड नोट भी छोड़ा था, जिसमें उसने अपने एडवोकेट साथी से परेशान होने का आरोप लगाया है. मुद्दे में जाँच प्रारम्भ कर दी गई है.