चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश सरकार का डॉक्टरों को तोहफा

चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश सरकार का डॉक्टरों को तोहफा

लखनऊ: देश के सबसे बड़े प्रदेश उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 से पहले प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार बड़ा फैसला लेने जा रही है. सरकार ने कोविड-19 तथा अन्य रोगों को देखते हुए डॉक्टरों की सेवानिवृत आयु 65 से बढ़ाकर 70 वर्ष करने की तैयारी की है. खबरों के मुताबिक, इस निर्णय से संबंधित प्रस्ताव पर शीघ्र ही मंत्रीमंडल की बैठक में मुहर लगाई जाएगी.

वही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पर अपनी स्वीकृति भी दे दी है. उत्तर प्रदेश के चिकित्सा शिक्षामंत्री सुरेश खन्ना ने एक बयान में बताया कि हमें अधिक अनुभव वाले डॉक्टरों की विशेष रूप से जरुरत है. यूपी में कोविड-19 संक्रमण के बिगड़ते हालातों के दौरान डॉक्टरों तथा पैरामेडिकल स्टाफ की तरफ से बहुत संवेदनशीलता तथा मजबूती के साथ कार्य किया गया. जिसे देखते हुए योगी सरकार ने डॉक्टरों के सेवानिवृत की आयु 5 साल और बढ़ाने का फैसला लिया है.

वही दुरी तरफ दिल्ली तथा एनसीआर इलाके में बच्चों में वायरल फीवर के मुद्दे बढ़ते जा रहे हैं. राजधानी इलाके में वायरल के बढ़ते मामलों को लेकर डॉक्टरों ने भी चिंता जाहीर की है. ओपीडी में एडमिट तकरीबन 25 से 30 प्रतिशत ऐसे बच्चे होते हैं, जिन्हें सामान्य रूप से पर सर्दी, खांसी तथा बुखार जैसे लक्षणों के साथ बुखार आ रहा है. इनमें साधारण वायरल के मामलों के साथ स्वाइन फ्लू के मुद्दे भी सम्मिलित हैं. वायरल फीवर से ग्रसित बच्चों को 102 से 103 तक बुखार आ रहा है. ऐसे बच्चों में हाईग्रेड फीवर के साथ प्लेटलेट काउंट्स‌ में भी कमी देखने को मिल रही है.


CM योगी ने क‍िया 65 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण

CM योगी ने क‍िया 65 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ठाकुरद्वारा के रतूपुरा में जनसभा को संबाेधित कर रहे हैं। उनके आगमन पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, प्रदेश के जल शक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह, पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह और पूर्व सांसद कुंवर सर्वेश सिंह आदि ने स्वागत किया। वहीं दूसरी ओर एसएस चिल्ड्रन स्कूल के बच्चों ने स्वागत में गीत प्रस्तुत क‍िया। अपने कार्यकाल में मुख्यमंत्री दूसरी बार रतूपुरा पहुंचे हैंं। मुख्यमंत्री ने इस दौरान तीन ऑक्सीजन प्लांट समेत 65 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इसके अलावा 13 विभागों की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र भी व‍ितर‍ित क‍िए।

मुख्यमंत्री के कार्यक्रम की तैयारी को अंतिम रूप देने के लिए पुलिस और प्रशासन देर रात तक जुटा रहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम की पिछले कई दिनों से तैयारी चल रही है। 16 सितंबर से पुलिस और प्रशासन भी व्यवस्था बनाने में जुटा हुआ था। जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह और एसएसपी बबलू कुमार सहित पूरा प्रशासनिक अमला रतूपुरा में डेरा जमाए हुए हैं। पूर्व सांसद सर्वेश सिंह कार्यक्रम स्थल पर रहकर पूरा इंतजाम अपनी देखरेख में कराते रहे। जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री कार्यक्रम के दौरान ठाकुरद्वारा विधानसभा क्षेत्र की 30 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। जनपद की योजनाओं में केवल आक्सीजन प्लांट शामिल हैं। समाज कल्याण विभाग की विभिन्न पेंशन योजना के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र सौपेंगे। इस दौरान पांच हजार लाभार्थी भी कार्यक्रम स्थल पर मौजूद रहेंगे।


भिंडी और लौकी की सब्जी खाएंगे मुख्यमंत्री : जनसभा को संबोधित करने के बाद मुख्यमंत्री पूर्व सांसद सर्वेश सिंह के आवास पर पहुंचेंगे। इसके लिए जनसभा के बाद करीब 140 मिनट का समय रिजर्व रखा गया है। घर पर ही दोपहर का भोजन करेंगे। मुख्यमंत्री के भोजन के लिए भिंडी और लौकी की सब्जी, रोटी व नान बनेंगे। मीठे में मखाने की खीर बनवाई गई है। साथ में आने वाले विशिष्ट अतिथियों के लिए भोजन की व्यवस्था है, जिसमें कई प्रकार के व्यंजन तैयार हो रहे हैं। घर पर होने वाले कार्यक्रम में सीमित संख्या में लोग मौजूद रहेंगे। इनमें मुख्यमंत्री के साथ आने वाले विशिष्ट अतिथि के अलावा मुरादाबाद से चुनिंदा लोग शामिल होंगे। स्थानीय स्तर पर पदाधिकारियों में अधिकांश के नाम सूची में शामिल नहीं किए गए हैं।