इस खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान -' शोएब अख्‍तर की बाउंसर पर हो गयी थी सचिन की आंखे बंद'

इस खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान -' शोएब अख्‍तर की बाउंसर पर हो गयी थी सचिन की आंखे बंद'

 पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्‍मद आसिफ (Mohammad Asif) ने बड़ा बयान देते हुए बोला कि एक समय शोएब अख्‍तर (shoaib Akhtar) की तेज बाउंसर पर हिंदुस्तान के महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) की आंखें बंद हो गई थी। 

एक इंटरव्‍यू में आसिफ ने बोला कि पाकिस्‍तान से जो भी 3 या 4 बेहतरीन तेज गेंदबाज निकले, वे सभी गुर्जर थे। शोएब अख्‍तर, आमिर व वे खुद सभी गुर्जर हैं। दरअसल तेज गेंदबाजी के लिए मजबूत बॉडी की आवश्यकता होती है।

उन्‍होंने एक मैच को याद करते हुए बोला कि 2006 में हिंदुस्तान के विरूद्ध कराची टेस्‍ट में शोएब अख्‍तर ने बहुत ज्यादा तेज गेंदबाज फेंकी थी। वें खुद स्‍क्‍वायर लेग पर अंपायर के पास फील्डिंग कर रहे थे। आसिफ ने बोला कि उस मैच में मैं अंपायर के पास खड़ा था व मैंने खुद देखा कि शोएब अख्‍तर की एक दो बाउंसर खेलते समय सचिन तेंदुलकर की आंखें बंद थी। पाकिस्‍तान ने 2006 में पाकिस्‍तान का दौरा किया था, जिसे मेजबान ने 1-0 से जीता था। सीरीज के शुरुआती दो मैच मुल्‍तान व फैसलाबाद में खेले गए थे। दोनों मैच हाई स्‍कोरिंग थे व ड्रॉ रहे। कराची में खेला गया तीसरा टेस्‍ट बहुत ज्यादा रोमांचक रहा। इस मैच में इरफान पठान ने हैट्रिक भी ली थी।

पठान की हैट्रिक से मनोबल कम हुआ इंग्‍लैंड दौरे के दौरान 2010 में स्‍पॉट फिक्सिंग स्‍कैंडल में फंसने के बाद सात वर्ष का बैन झेलने वाले आसिफ ने बोला कि जब भारतीय टीम पाकिस्‍तान आई थी तो उनका बैटिंग लाइन अप बहुत ज्यादा मजबूत था। द्रविड़ शानदार कर रहे थे। सहवाग ने मुल्‍तान में मारा था। फैसलाबाद टेस्‍ट में दोनों टीमों ने 600 रन बनाए। हिंदुस्तान के बल्‍लेबाजी क्रम से पाकिस्‍तान की टीम डरी हुई थी। एमएस धोनी (MS Dhoni) नंबर 7 या आठ पर बल्‍लेबाजी कर रहे थे। सीरीज के फाइनल मैच को याद करते हुए आसिफ ने बोला कि जब मैच प्रारम्भ हुआ तो पठान ने पहले ही ओवर में हैट्रिक ली व उनकी टीम का मनोबल गिर गया। कामरान अकमल ने शतक जड़ा व टीम ने 240 के इर्द गिर्द बनाए। मगर फिर जब अख्‍तर गेंदबाजी पर आए थे तो उनकी बाउंसर पर सचिन की आंखे बंद हो गई थी। अतिथि टीम बैकफुट पर आ गई थी व मेजबान ने मुकाबला जीत लिया।