जीता हुआ मैच हारा श्रीलंका, दिग्गज खिलाड़ी बोला...

जीता हुआ मैच हारा श्रीलंका, दिग्गज खिलाड़ी बोला...

महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन को लगता है कि मौजूदा श्रीलंकाई क्रिकेट टीम कुछ सालों से मैच जीतना भूल गई है। उन्होंने जोर देकर कहा कि देश में खेल इस समय कठिन दौर से गुजर रहा है। नए कप्तान दासुन शनाका के नेतृत्व में श्रीलंकाई टीम दूसरे एकदिवसीय मैच में 275 के टारगेट का बचाव करने में विफल रही। टीम इंडिया ने इस लक्ष्य को  तीन विकेट और पांच गेंद शेष रहते हासिल कर लिया। एक समय मेहमान टीम 193 रनों पर सात विकेट गंवाकर मुश्किल में थी। इसके बाद दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार टीम की मैच में वापसी कराई और जीत दिला दी। 

मुरलीधरन ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो को बताया, 'मैंने आपको पहले कहा था श्रीलंका को जीतने का तरीका नहीं पता। वे पिछले कुछ सालों से जीतना भूल गए हैं। उनके लिए काफी कठिन समया रहा है क्योंकि वे नहीं जानते कि मैच कैसे जीता जाता है।' उन्होंने कहा कि लेग स्पिनर वानिंदु हसरंगा ने तीन विकेट लेकर भारतीय टीम को मुश्किल में डाल दिया था, लेकिन श्रीलंका के कप्तान शनाका ने उन्हें अंतिम ओवरों के लिए रखकर बड़ी गलती की।


मुरलीधरन ने आगे कहा, 'मैंने आपको पहले बताया है कि अगर श्रीलंकाई टीम पहले 10-15 ओवर में तीन विकेट लेता है, तो भारतीय टीम संघर्ष करती दिखेगी और वास्तव में भारत ने संघर्ष किया। दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार के बड़े प्रयास ने उन्हें जीत दिलाई। श्रीलंका ने कुछ गलतियां कीं। उन्हें वानिंदु हसरंगा के ओवर रखने के बजाय कराने चाहिए थे और एक विकेट लेने की कोशिश करनी चाहिए थी। अगर वे भुवनेश्वर या चाहर में से एक विकेट ले लेते, तो दो अन्य टेलएंडर्स के आने के बाद 8-9 रन प्रति ओवर के लक्ष्य का पीछा करना कठिन होता। उन्होंने कुछ गलतियाँ कीं, लेकिन यह एक अनुभवहीन टीम है।' बता दें कि टीम इंडिया ने तीन मैचों की सीरीज पर दो-एक से कब्जा जमा लिया है।


जिम्बाब्वे के ओपनर ने खेली धमाकेदार पारी, बांग्लादेश को दूसरे टी20 में मिली करारी मात

जिम्बाब्वे के ओपनर ने खेली धमाकेदार पारी, बांग्लादेश को दूसरे टी20 में मिली करारी मात

जिम्बाब्वे की टीम ने बांग्लादेश के खिलाफ खेली जा तीन मैचों की टी20 सीरीज में शानदार कामयाबी हासिल की। दूसरे मैच में मेजबान ने 23 रन से जीत दर्ज करते हुए सीरीज में 1-1 की बराबरी हासिल की। पहले बल्लेबाजी करते हुए जिम्बाब्वे की टीम ने 6 विकेट पर 166 रन की स्कोर खड़ा किया था। जवाब में बांग्लादेश की टीम 19.3 ओवर में 143 रन पर ही सिमट गई।

जिम्बाब्वे की टीम ने शुक्रवार को बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टी20 मुकाबले में 23 रन की शानदार जीत हासिल की। मेजबान टीम के कप्तान सिकंदर रजा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। ओपनर वेस्ले मादेवरले ने शानदार अर्धशतकीय पारी खेलकर टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाने की नींव तैयार की। दूसरे छोर पर उनको साथ नहीं मिला लेकिन अकेले दम पर ही टीम अच्छे स्कोर तक पहुंचाया।


57 गेंद पर इस बल्लेबाज ने 5 चौके और 3 छक्के की मदद से शानदार 73 रन की पारी खेली। इसके अलावा लियान बुरी ने नीचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 34 रन की पारी खेली। 19 गेंद पर 2 चौके और 2 छक्के की मदद से यह पारी खेलते हुए रियान ने टीम को 166 रन के स्कोर तक पहुंचाया।


जवाब में बांग्लादेश की तरफ से कोई भी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर पाया। शमीम हुसैन ने सबसे बड़ी 29 रन की पारी खेली जबकि अफीफ हुसैन ने 24 रन का योगदान दिया। टीम के पांच बल्लेबाज तो दहाई अंक तक भी नहीं पहुंच पाए। जिम्बाब्वे की तरफ से लुक जांग्वे और वेलिंग्टन मसाकातजा ने 3-3 विकेट चटकाए। तेंदाई चातारा और मुजरबानी ने 2-2 बल्लेबाजों को आउट किया।