Pro Kabaddi League 2021: नवीन कुमार ने बंगाल के विरूद्ध रचा इतिहास, पढ़ें पूरी खबर

Pro Kabaddi League 2021: नवीन कुमार ने बंगाल के विरूद्ध रचा इतिहास, पढ़ें पूरी खबर

प्रो कबड्डी लीग सीजन पांच तक दबंग दिल्ली वो टीम थी, जिसका सामना करने के लिए कोई भी टीम उत्साहित रहती थी। लेकिन सीजन 6 से ये उन टीमों में से एक बन चुकी है, जिसके सामने बड़े-बड़े कद्दावर बेअसर हो जाते हैं।

सीजन 6 से पहले जो टीम अंतिम जगह से बचने के लिए संघर्ष करती थी, वही टीम पिछले तीन सीजन से शीर्ष पर रहते हुए टीमों को चुनौती देती है। इसका ज्यादातर श्रेय नवीन कुमार (Naveen Kumar) को जाता है, जिन्होंने टीम की भाग्य ही पलट दी है।

नवीन के आते ही बदल गई दिल्ली की किस्मत

दबंग दिल्ली केसी (Dabang Delhi KC) जैसे नवीन कुमार का ही इन्तजार कर रही थी। इस खिलाड़ी के टीम में शामिल होते ही टीम ने पहला बार प्लेऑफ्स के लिए क्वालीफाई किया। सीजन 7 में टीम ग्रुप स्टेज के सभी मुक़ाबलों के बाद शीर्ष पर रही और फाइनल तक का यात्रा तय किया, जहां उसे बंगाल वॉरियर्स (Bengal Warriors) से हार का सामना करना पड़ा। सीजन 8 में दबंग दिल्ली ने उसी डिफेंडिंग चैंपियन (Defending Champions) को धूल चटाते हुए बहुत बढ़िया जीत दर्ज की। इस मैच में नवीन कुमार ने सीजन का लगातार चौथा और करियर का लगातार 25वां सुपर 10 रेड (Super 10 Raid) पूरा किया।

नवीन से तेज़ कोई नहीं

मतलब साफ है कि नवीन एक्सप्रेस (Naveen Express) जिस गति से पिछले सीजन में दौड़ी थी इस सीजन उसकी गति और बढ़ गई है। पिछले मैच में सबसे तेज़ 500 रेड प्वाइंट पूरा करने वाले नवीन कुमार इस सीजन रेड प्वाइंट का अर्धशतक जड़ चुके हैं और अब तक चार मुक़ाबलों में 59 पास रेड के साथ 66 रेड प्वाइंट हासिल कर चुके हैं। इस मुद्दे में दूसरे नंबर पर मौजूदा चैंपियन टीम के कैप्टन मनिंदर सिंह (Maninder Singh) हैं, जिन्होंने 48 रेड प्वाइंट हासिल किया है और नवीन एक्सप्रेस से बहुत ज्यादा पीछे हैं।

बंगाल के विरूद्ध रच दिया इतिहास

बंगाल वॉरियर्स हमेशा पीकेएल (PKL) की बेहतर टीमों में से एक रही है। ये टीम अक्सर प्लेऑफ़ में स्थान बनाती है। दिल्ली ने पिछले सीजन में खेले गए 25 मैचों में से केवल 5 मैच गंवाए थे, उनमें से दो हार बंगाल के विरूद्ध मिली थी, जिसमें फाइनल भी शामिल है। बुधवार को जब दिल्ली के दबंग मैट पर उतरे, तो उन्होंने एकतरफा मुक़ाबले में बंगाल को हराकर पिछली हार का बदला लेने की प्रयास की। इस मैच में नवीन ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और 24 रेड प्वाइंट हासिल किया। यहीं नहीं वो लगातार 24 मैचों में सुपर 10 रेड पूरा करते आ रहे हैं, जो इतिहास में आज तक कोई भी खिलाड़ी नहीं कर पाया है।


बेहद सरलता से आउट हुए विराट कोहली रह गए दंग, देखें VIDEO

बेहद सरलता से आउट हुए विराट कोहली रह गए दंग, देखें VIDEO

सेंचुरियन2018 में भारतीय टीम साउथ अफ्रीका दौरे पर गई थी. जोहानिसबर्ग में टीम इंडिया को नेट प्रैक्टिस में बॉलिंग करने के लिए कुछ लोकल गेंदबाजों को बुलाया गया था. उसमें दो जुड़वा भाई थे. उनमें से एक 17 वर्षीय ने भारतीय इंटरनेशनल क्रिकेटरों को खूब परेशान किया था.

अब आप सोच रहे हैं हम यहां 2018 दौरे और नेट बॉलर की बात क्यों कर रहे हैं? तो बता दें कि उसी नेट बॉलर मार्को जेनसेन ने को सेंचुरियन टेस्ट की दूसरी पारी में 18 रनों पर आउट कर दिया.

बॉक्सिंग डे टेस्ट के चौथे दिन लंच के बाद पहले ही ओवर की पहली गेंद पर विराट कोहली अपना विकेट गंवा बैठे. डेब्यू स्टार मार्को की गेंद गुड लेंथ पर टप्पा खाने के बाद ऑफ स्टंप से बहुत ज्यादा बाहर निकल रही थी और कोहली बल्ला अड़ा बैठे. बाकी का कार्य विकेट के पीछे खड़े क्विंटन डि कॉक ने पूरा किया. बहुत सरलता से कोहली का सीधा कैच लपक लिया. कोहली आउट होने के बाद दंग दिखे. कुछ देर तक वहीं खड़े रह गए.

विराट कोहली के लिए पिछले दो साल संघर्ष वाले रहे हैं. उन्होंने अपना अंतिम शतक बांग्लादेश के विरूद्ध 2019 में लगाया था. उसके बाद से वह कोई बड़ी पारी नहीं खेल सके. सेंचुरियन टेस्ट की बात करेंगे तो यहा वह पहली पारी में भी ऐसे ही हाउट हुए थे.

2021 की बात करें तो कोहली ने 11 टेस्ट में महज 28.21 की औसत से 536 रन बनाए. इस दौरान उनके नाम 4 अर्धशतक रहे, जबकि बेस्ट स्कोर 72 रहा. बेकार फॉर्म की वजह से ही उन्हें टी-20 टीम की कप्तानी छोड़नी पड़ी, जबकि बाद में बीसीसीआई ने वनडे की कप्तानी से भी हटाने का निर्णय किया.


गौरतलब है कि हिंदुस्तान ने अपनी दूसरी पारी में 174 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका के सामने 305 रन का लक्ष्य रखा. हिंदुस्तान ने पहली पारी में 327 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका को 197 रन पर आउट करके 130 रन की बढ़त हासिल की थी. हिंदुस्तान की तरफ से दूसरी पारी में ऋषभ पंत ने सर्वाधिक 34 रन बनाए. दक्षिण अफ्रीका के लिए कागिसो रबाडा और मार्को जेनसेन ने चार-चार जबकि लुंगी एनगिडी ने दो विकेट लिए.