बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज बाउचर का करियर है असाधारण ,जाने क्यों

बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज बाउचर का करियर है असाधारण ,जाने क्यों

 दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के निदेशक बनते ही कुछ पूर्व चैम्पियन दिग्गजों के टीम में वापसी के कयास लगाए जा रहे हैं. माना जा रहा है कि दक्षिण अफ्रीका के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बल्लेबाज मार्क बाउचर को दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम का अंतरिम कोच की जिम्मेदारी मिलेगी. मीडिया समाचार के अनुसार, वार्ता फाइनल हो गई है

 व शनिवार को ग्रीम स्मिथ बाउचर को दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम का अंतरिम कोच नियुक्त करने की घोषणा कर देंगे. इसके अतिरिक्त यह भी आसार जाहीर की जा रही है कि आने वाले कुछ दिनों में दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ हरफनमौलाओं में से एक जैक कैलिस बल्लेबाजी कोच की किरदार संभालेंगे. वर्तमान अंतरिम टीम निदेशक इनोक नकवे के भी पद पर बने रहने की आसार जताई जा रही है.

बतौर कोच भी पास हैं बाउचर

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम पूर्व विकेटकीपर मार्क बाउचर का करियर आंख में चोट लगने के कारण असमय खत्म हो गया था. 2012 में जब वह अपने करियर के शानदार दौर से गुजर रहे थे, तब एक गेंद उनकी आंख पर आ कर लग गई थी. इसके बाद वह बतौर खिलाड़ी क्रिकेट मैदान पर वापसी नहीं कर पाए. 2016 से वह दक्षिण अफ्रीका की घरेलू टीम तशवने स्पार्टन के मुख्य कोच हैं. इन तीन वर्षों में वह अपनी टीम को चार बड़े खिताब दिला चुके हैं. इनमें से एक प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट, दो एकदिवसीय कप व एक टी-20 खिताब है.

बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज बाउचर का करियर है असाधारण

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट की टीम के साथ मार्क बाउचर का करियर शानदार रहा है. 43 वर्ष के बाउचर ने राष्ट्रीय टीम के साथ 147 टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने इस दौरान 206 पारियों में 30.3 की औसत से पांच शतक व 35 अर्धशतक की मदद से 5515 रन बनाए हैं व बतौर विकेटकीपर 555 शिकार किए हैं. इनमें से 523 कैच पकड़े हैं व 23 स्टंप किया है. वहीं 295 एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच की 221 पारियों में उन्होंने 28.6 की औसत से 4686 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने एक शतक व 26 अर्धशतक लगाया है, जबकि 425 शिकार किए हैं. इस दौरान उन्होंने 403 कैच पकड़े व 22 स्टंप किए. टी-20 क्रिकेट हालांकि उन्होंने ज्यादा नहीं खेला है. 25 मैच की 21 पारियों में उन्होंने 268 रन बनाए हैं व कुल 19 शिकार किए हैं. इनमें से 18 कैच व एक स्टंप है.

ये तिकड़ी एक साथ खेल चुकी है क्रिकेट

जहां तक कोचिंग की बात है तो जैक कैलिस को भी इसका अनुभव है. वह आईपीएल के तीन सीजन में 2016 से 2018 तक कोलकाता नाइट राइडर्स के कोच रह चुके हैं. इन तीनों सीजन में केकेआर की टीम प्लेऑफ में पहुंची. इसके अतिरिक्त ये तीनों एक-दूसरे को बहुत ज्यादा बेहतर ढंग से जानते हैं. ग्रीम स्मिथ ने जब अपनी कप्तानी में दक्षिण अफ्रीका को लगभग अपराजेय टीम में बदल दिया था, तब यह दोनों उनकी कप्तानी में खेल चुके हैं. इनके अतिरिक्त यह भी चर्चा चल रही है कि ग्रीम स्मिथ पूर्व तेज गेंदबाज विक्‍टर एंपिटसैंग को चयनकर्ताओं का संयोजक नियुक्त कर सकते हैं.