इस सोशल मीडिया साइट ने उठाया यह बड़ा कदम, इतने हज़ार अकाउंट को किया बंद

इस सोशल मीडिया साइट ने उठाया यह बड़ा कदम, इतने हज़ार अकाउंट को किया बंद

सोशल मीडिया ने खबर के प्रवाह को जिस तेजी के साथ आगे बढ़ाया है उतनी ही तेजी से फर्जी खबरों का भी प्रसार होने की आसार बढ़ी है.

तमाम सोशल मीडिया साइटों के जरिए फर्जी खबरों को प्रसारित किया जा रहा है व आम लोगों तक ठीक जानकारी नहीं पहुंच पा रही है. ऐसे में फेसबुक हो या ट्विटर, सभी ने फेक न्यूज को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं.

इसी कड़ी में माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने भी एक बड़ा कदम उठाया है. शुक्रवार को ट्विटर ने एक बयान में बोला कि उसने दुनियाभर में ऐसे फर्जी खबर अकाउंटों को बंद कर दिया है जो झूठी सूचनाएं फैला रहे थे.

ट्विटर की सुरक्षा टीम ने बोला कि हमारे इस कदम से सबसे अधिक सऊदी अरब को समर्थित अकांउट प्रभावित हुए हैं. ये सभी अकाउंट मिस्र व संयुक्त अरब अमीरात (UAE) से संचालित हो रहे थे, जो कि कतर तथा यमन पर केंद्रित थे.

ट्विटर के मुताबिक, बंद किए गए अनेक अकाउंट चाइना के भी हैं जो हांगकांग में प्रदर्शनकारियों के बीच मतभेद पैदा करने पर केंद्रित थे. इसके अतिरिक्त स्पेन व इक्वाडोर से संचालित फर्जी ट्विटर अकाउंटों को भी बंद कर दिया गया है.

आपको बता दें कि बीते महीने फेसबुक ने एक बड़ा कदम उठाते हुए पश्चिम एशिया व हांगकांग पर केंद्रित मिस्र और सऊदी अरब से संचालित अकाउंटों को बंद कर दिया था.

सबसे अधिक सऊदी व चाइना समर्थित अकाउंट हुए बंद

ट्विटर ने जितने अकाउंट बंद किए हैं उसमें से सबसे अधिक सऊदी अरब व चाइना समर्थित अकाउंट थे. ट्विटर ने 273 ऐसे अकाउंटों को बंद कर दिया जो सऊदी अरब के प्रतिद्वंद्वियों कतर व ईरान और अन्य राष्ट्रों के बारे में गलत सूचना फैला रहे थे. साथ ही वे सऊदी सरकार का समर्थन कर रहे थे.

ट्विटर के मुताबिक, ये सभी अकाउंट संयुक्त अरब अमीरात (UAE) व मिस्र में आधारित प्रौद्योगिकी कंपनी डॉटडेव द्वारा संचालित व प्रबंधित थे.

ट्विटर ने इसके अतिरिक्त सऊदी अरब के रॉयल न्यायालय एडवाइजर सऊद अल काहतनी का भी अकाउंट बंद कर दिया है. साथ ही एक पृथक समूह के 4,258 अकाउंटों को भी बंद कर दिया गया है, जो UAE से संचालित हो रहे थे व फर्जी ट्विट के जरिए कतर और यमन को निशाना बना रहे थे. इक्वाडोर से संचालित 1,019 अकाउंटों को भी ट्विटर ने बंद कर दिया है.

चीन के विरूद्ध हांगकांग में हो रहे भारी विरोध प्रदर्शन में भी कई ट्विटर अकाउंट भड़काने का कार्य कर रहे थे. ऐसे में चाइना आधारित 4,302 अकाउंटों को भी बंद कर दिया गया है. अभी चाइना में फेसबुक व ट्विटर दोनों ही प्रतिबंधित हैं.