डकैतों ने घर में अकेले बुजुर्ग पर किया हमला, व फिर...

रात का समय, घर के चारों तरफ सन्नाटा व बुजुर्ग जोड़ा अकेला। दूर-दूर तक चीख पुकार सुनने वाला भी कोई नहीं। इन्हीं बातों का फायदा उठाकर डकैतों ने उन पर हमला कर दिया।

आपको क्या लगता है इस लड़ाई में क्या डकैत जीत गए? ज्यादा सोचिए मत बुजुर्ग दंपत्ति ने मिलकर डकैतों से लोहा लिया व डकैतों को दुम-दबाकर भागना पड़ा। यह घटना तमिलनाडु प्रदेश के तिरुनेलवी की है।

न्यूज एजेंसी ANI की तरफ से बहादुर बुजुर्ग दंपत्ति का वीडियो जारी किया गया है। इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि रात के अंधेरे का लाभ उठाकर डकैत कैसे बुजुर्ग को अकेला पाकर घर में घुसते हैं। वीडियो में आप देख सकते हैं कि बुजुर्ग आदमी अपने घर के बरामदे में बैठे हुए हैं। उन्हें पता ही नहीं चला कि कब पीछे की ओर से हाथ में गंडासा लिए दो डकैतों ने हमला बोल दिया। एक डकैत ने उनके गले में कपड़ा डालकर उन्हें पीछें खींचा।

बुजुर्ग की आवाज सुनकर उनकी पत्नी भी घर से बाहर निकल आई व बड़ी ही फुर्ती से चप्पल, जूता, कुर्सी, जो हाथ में आया वही फेंककर डकैतों से भिड़ गईं। एक पल तो ऐसा हुआ कि उन्होंने प्लास्टिक की कुर्सी फेंककर डकैतों को मारा। कुर्सी टूट गई। आखिरकार दोनों पति-पत्नी के साहस ने डकैतों को भागने पर विवश कर दिया। बिल्कुल जिसको सिर पर पैर रखकर भागना कहते हैं।