ईरान से वार्ता के लिए कोई पूर्व शर्त नहीं: ट्रम्प

ईरान से वार्ता के लिए कोई पूर्व शर्त नहीं: ट्रम्प

वॉशिंगटन
ईरान से बढ़ते तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने रविवार को बोला कि ईरान के साथ वार्ता के लिए कोई पूर्व शर्त नहीं है, सिवाय इसके कि वह ईरान को परमाणु हथियार हासिल नहीं करने देंगे. सत्ता में आने के बाद ट्रम्प ने ईरान से परमाणु समझौता समाप्तकर लिया था. साथ ही ईरान पर प्रतिबंध भी लगा दिए थे, जो हिंदुस्तान जैसे राष्ट्रों को ईरान से ऑयल खरीदने से रोकते हैं. एक प्रोग्राम में ट्रम्प ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा, 'जहां तक मेरा सवाल है, कोई पूर्व शर्त नहीं है.’

ट्रंप से सवाल किया गया कि क्या वह कहीं पर भी बात करने को तैयार हैं? इस सवाल के जवाब में ट्रम्प ने कहा, ‘देखिए, आपके (ईरान के) पास परमाणु हथियार नहीं हो सकते. अगर आप (ईरान) इसके बारे में बात करना चाहते हैं, तो अच्छा है. वरना आप आने वाले लंबे समय में निर्बल होती अर्थव्यवस्था में रह सकते हैं.’ ट्रंप ने बोला कि अमेरिका पश्चिम एशिया में एक मानव रहित ड्रोन को कथित तौर पर मार गिराने के जवाब में ईरान पर हमला करने की कगार पर था. लेकिन उन्होंने आधे घंटे पहले अपनी अनुमति वापस ले ली.

ट्रंप ने बोला हमले से पहले उन्हें बताया गया कि हमले की तैयारी है. ट्रंप ने कहा, ‘उन्होंने बोला हम हमले के लिए तैयार हैं. मैंने पूछा कि कितने लोग मारे जाएंगे,? उन्होंने कहा, लगभग 150 व मैंने इसके बारे में एक सेकंड के लिए सोचा व कहा, आप जानते हैं कि उन्होंने क्या किया है? उन्होंने एक मानवरहित ड्रोन, या विमान, आप जो भी कहें, उसे मार गिराया हैयहां हम 150 लोगों की मौतों की बात कर रहे हैंमैं नहीं समझता कि यह ठीक होगा.’

बता दें कि ड्रोन को गिराए जाने से भड़के अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने ईरान पर हमले का आदेश दे दिया था, लेकिन ऐक्शन से अच्छापहले इसे वापस ले लिया गया. रिपोर्ट्स के अनुसार, राष्ट्रपति ट्रंप ने गुरुवार देर रात वरिष्ठ नेताओं व अधिकारियों के साथ अहम मीटिंगकी थी. आरंभ में ट्रंप ने ईरान के कुछ निश्चित टारगेट्स जैसे रडार व मिसाइल बैटरियों पर अटैक को लेकर सहमति जताई थी, लेकिन फिर आकस्मित ही अपना निर्णय बदल दिया. (