बिमारियों की ओर संकेत करती है उबासी, जानें कारण

बिमारियों की ओर संकेत करती है उबासी, जानें कारण

जम्हाई हवा के साथ फेफड़ों को भरने, मुंह खोलने व गहरी सांस लेने की एक अनैच्छिक प्रक्रिया है। अक्सर हमे थकान के कारण या फिर नींद के कारण उबासी आती है। लेकिन हर जागह ये अच्छा भी नहीं लगता। इसके अतिरिक्त उबासी आने का कारण कुछ बिमारियों की ओर भी संकेत करती है। जम्हाई आना कोई बुरी वस्तु नहीं है, लेकिन ज्यादा जम्हाई आए तो इसके कई कारण हो सकते हैं।

हृदय संबंधित शिकायत
हृदय रोग एक व्यापक शब्द है जिसमें दिल से संबंधित कई समस्याओं व कंडीशन को शामिल किया गया है। बेहद जम्हाई आने का संबंध दिल संबंधित शिकायत हो सकती है। शरीर में ऑक्सिजन की कमी होने पर ब्लड पंप करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। इससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ता है।

तनाव
तनाव एक ऐसी स्थिति है जो एक विशेष जैविक रिएक्शन को ट्रिगर करती है। जब आप किसी खतरे या बड़ी चुनौती को समझते हैं, तो आपके शरीर में रसायन व हार्मोन बढ़ते हैं। यदि आपको ज्यादा तनाव है तो आपको ज्यादा जम्हाई आ सकती है। स्ट्रेस बढ़ने पर ब्रेन टेम्प्रेचर बढ़ता है ऐसे में जम्हाई आती है। इस प्रोसेस के दौरान हमें ऑक्सिजन की पर्याप्त मात्रा मिलती है, जिससे दिमाग ठंडा होता है।

थाइरॉयड
हाइपोथायरायडिज्म तब होता है जब आपका शरीर पर्याप्त थायराइड हार्मोन का उत्पादन नहीं करता है। हाइपोथायरायडिज्म, जिसे अंडरएक्टिव थायरॉइड या लो थायरॉइड भी बोला जाता है, एंडोक्राइन सिस्टम का विकार है जिसमें थायराइड ग्रंथि पर्याप्त थायरॉइड हार्मोन का उत्पादन नहीं करता है। आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि बार-बार जम्हाई आना हाईपोथाइरॉयड डिस्म की वजह हो सकती है।

नींद में कमीं
संक्रामक बीमारियों से लड़ने के लिए आपके शरीर को नींद की आवश्यकता होती है। नींद की की कमी से मोटापा, मधुमेह, व दिल वरक्त वाहिका (हृदय रोग) रोग का खतरा भी बढ़ जाता है। इसके अतिरिक्त नींद पूरी न होने या स्लीप एप्निया नामक डिसऑर्डर होने पर ज्यादा जम्हाई आने की समस्या होती है।

दवाइयों के साइड इफेक्ट्स
कई बार कुछ दवाइयों के दुष्प्रभाव की वजह से बेहद जम्हाई आती है। वैसे दवाइयों के ज्यादा सेवन से कब्ज, स्कीन की सूजन, दस्त, चक्कर आना, उनींदापन व ड्राई माउथ जैसी समस्या हो सकती है।