भारतीय वायु सेना के चीफ ने पाकिस्तान को दी यह बड़ी चेतावनी, कही यह बात

भारतीय वायु सेना के चीफ ने पाकिस्तान को दी यह बड़ी चेतावनी, कही यह बात

भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने शुक्रवार को एक बार फिर पाक को चेतावनी भरे लहजे में समझाया कि सेना किसी भी सैन्य विवाद को तैयार है. उन्होंने विंग कमांडर अभिनंदन वर्द्धमान को रिकॉर्ड समय में पाकिस्तान के चंगुल से छुड़ाने का श्रेय सरकार को दिया.

एयर चीफ मार्शल ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में बोला कि वे अभिनंदन को उनके बचपन से जानते हैं क्योंकि वे उनके पिता के साथ कार्य कर चुके हैं, जो वायुसेना के पूर्व कर्मी हैं. साथ ही यह भी बोला कि पाक के कब्जे में विंग कमांडर का व्यवहार असाधारण था. उनके हाव-भाव व दृढ़ता से जवाब देना, ये सारी चीजें उनकी सैन्य क्षमता को बयां कर रही थीं.

‘हमने कमांडर आहूजा को खोया’ : धनोआ ने विंग कमांडर के पाक के कब्जे में होने के पल को याद करते हुए कहा, कारगिल में हम फ्लाइट कमांडर अजय आहूजा को गंवा बैठे थे. वे (अपने जेट से) निकले थे लेकिन जब वे (सीमापार पाक में) उतरे तो उन्हें गोली मार दी गई थीयही मेरे दिमाग में चल रहा था.

अनुमति लेकर पीछे बैठे
मैंने अभिनंदन के पिता से बोला कि हम आहूजा को वापस नहीं ला सके, लेकिन अभिनंदन को जरूर लाएंगे. वायुसेना प्रमुख से विंग कमांडर के साथ उनकी उड़ान के बारे में भी पूछा गया. जिस पर उन्होंने कहा, वर्दी उतारने (सेवानिवृत्त होने) से पहले मैं एक उड़ान भरना चाहता था. अभिनंदन को चिकित्सकों ने अनुमति दे दी थी. वे पीछे बैठ गए व मैं आगे की सीट पर बैठ गया. धनोआ सितंबर के आखिर में सेवानिवृत्त हो रहे हैं.

पाकिस्तान ने हमेशा कम आंका : वायुसेना प्रमुख
पाक ने हिंदुस्तान के राष्ट्रीय नेतृत्व को हमेशा से कमतर आंका है व उसने यही गलती बालाकोट हवाई हमले के वक्त भी की. यह बात शुक्रवार को भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कही. साक्षात्कार में धनोआ ने कहा, आपको याद होगा कि पाक ने हमारे राष्ट्रीय नेतृत्व को हमेशा से कमतर आंका है. 1965 के युद्ध में उन्होंने तत्कालीन पीएम लाल बहादुर शास्त्री को कम आंका था. उन्होंने कभी उम्मीद नहीं की थी कि वे मोर्चा खोलेंगे व लाहौर तक पहुंच जाएंगे.

वायुसेना प्रमुख ने कहा, वे चौंक गए. उन्हें लगा था कि वे सिर्फ कश्मीर में लड़ेंगे. वे दंग रह गए. कारगिल युद्ध में वे एक बार फिर हक्के-बक्के रह गए. उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि हम अपनी सारी ताकत झोंक देंगे व बोफोर्स तोपों का मुंह उनकी तरफ कर देंगे व उन्हें खदेड़ देंगे.