सेक्स के दौरान ये 5 बातें सोचती हैं महिलाएं

सेक्स के दौरान ये 5 बातें सोचती हैं महिलाएं

सेक्स क्रिया पुरुषों की तरह स्त्रियों के लिए भी एक ख़ुशी व सुखद भरा एहसास है। संभोग को जितना पुरुष एन्जॉय करते हैं उतना ही महिलाएं भी करती हैं। संभोग के दौरान स्त्रियों के दिमाग में कुछ नए विचार आना निश्चित रूप से सामान्य है। लेकिन संबंध बनाने के दौरान महिला पार्टनर के दिमाग में क्या चल रहा है ये किसी को पता नहीं होता। बता दें, महिलाएं इस क्रिया के दौरान पांच दिलचस्प बातें सोचती हैं, जिन्हें आपके लिए समझना बहुत ज़रूरी है।

* निर्वस्त्र होने में शर्मिंदगी - ऐसा अधिकांश महिलाएं सोचती हैं कि संभोग के दौरान उन्हें पार्टनर के सामने निवस्त्र अवस्था में शर्मिंदगी महसूस होगी। क्योंकि उस वक्त वह अपने फिगर को लेकर कुछ ज्यादा ही सचेत हो जाती हैं।

* लाइट कम हो - संभोग के दौरान दोनों पार्टनर का मूड बनाने के लिए लाइटिंग का अहम भूमिका होता है। जबकि पुरुष यह चाहते हैं कि संभोग के दौरान तेज़ लाइट रहे। महिला यह चाहती है कि इस क्रिया के दौरान रोशनी डिम हो।

* फोरप्ले देर तक हो - पुरुष संभोग क्रिया को तुरंत मुकाम तक पहुंचाने के जल्दबाजी में रहते हैं। जबकि महिला सोचती है कि संभोग से पहले फोरप्ले का पूरी तरह से मजा लिया जाए व ये क्रिया लंबे समय तक चले। कई स्त्रियों के लिए संभोग से ज्यादा फोरप्ले एक मजेदार क्रिया है।

* नयी संभोग पोजिशन - कई मामलों में संभोग के दौरान पुरुषों द्वारा कुछ नयी तकनीक से महिला को ख़ुशी हो सकती है। लेकिन ऐसा करते रहने से, उसके मन में यह शंका पैदा हो सकती है कि आपने यह नई-नई तकनीक कहां से सीखी है।

* संभोग क्रिया जल्द ख़त्म हो जाए - सेक्स से पहले महिला के दिमाग में यह सोच रहती है कि वो इस क्रिया को 10 से 12 मिनट में ख़त्म कर दे। क्योंकि एक समय बाद उन्हें इस क्रिया के दौरान दर्द का एहसास होने लगता है।