इन हेल्दी और टेस्टी तरीको से बनाए मखाने के लड्डू

इन हेल्दी और टेस्टी तरीको से बनाए मखाने के लड्डू

मखाने के लड्डू
यह आयरन, कैल्शियम व पोटैशियम का अच्छा स्रोत है. इसको नियमित खाने से हाई ब्लड पे्रशर, कमर व जोड़ों के दर्द में भी आराम मिलता है. श्वसन, प्रजनन व यूरिन से संबंधी बीमारियों में भी फायदा मिलता है.


विधि- सबसे पहले धीमी आंच पर 100 ग्राम मखाने को घी में भूनें. इसके बाद एक बर्तन में अलग निकालकर मिक्सी में पीस लें. फिर कड़ाही में एक चम्मच घी डालकर करीब 200 ग्राम मेवे को हल्का भूनें. इसके बाद इसमें 200 ग्राम खांड मिलाकर लड्डू बांध लें. अगर नमी की आवश्यकता है तो दूध का प्रयोग करें. इसमें घी व खांड कम ही प्रयोग करते हैं.
कौंच बीज के लड्डू
यह बच्चों और स्त्रियों के लिए अधिक लाभकारी होता है. इसे खाने से शरीर में पोषक तत्वों की पूर्र्ति होती व मजबूती आती है. लड्डू बनाने के लिए कौंच के बीज,आटा, देसी घी, अश्वगंधा, कालीमिर्च, लौंग जायफल, जावित्री, पीपल व खांड या बूरे की आवश्यकता होती है.
सावधानियां : ये सभी लड्डू प्रातः काल दूध के साथ नाश्ते के रूप में लेने चाहिए. हाई ब्लड प्रेशर, हाई कॉलेस्ट्राल, दिल रोग, ब्लाकेज, मधुमेह के रोगी विशेषज्ञ की सलाह से ही इन्हें लें. जिनकी अग्नि निर्बल रहती यानी पाचन ठीक नहीं रहता तो वे कार्य मात्रा में सेवन करें. सामान्य आदमी प्रतिदिन 100 ग्राम की मात्रा तक इन लड्डुओं को ले सकता है.
अश्वगंधा के लड्डू
शारीरिक और मानसिक कमजोरी, थकावट, नाड़ी तंत्र की दिक्कत, तनाव, अनिद्रा, अल्जाइमर आदि बीमारियों में फायदेमंद है.
विधि : एक किग्रा। गेहूं के आटे को 750 ग्राम देसी घी में भून लें. इसके बाइ इसमें 250 ग्राम अश्वगंधा पाउडर डालकर थोड़ा व पका लें. आंच से उतारकर इसमें 50 ग्राम पीसी हुई कालीमिर्च व एक किग्रा खांड डालकर अच्छी तरह से मिलाकर लड्डू बना लें. प्रातः काल के समय एक लड्डू ले सकते हैं.
मूसली-अश्वगंधा लड्डू
ये लड्डू शरीर को मजबूती देते व तनाव से बचाते हैं. इसके साथ ही पाचन दुरुस्त रखने व संक्रमण से बचाव करते हैं. इससे नसों को मजबूती मिलती है. यह लड्डू बनाने के लिए आटा, देसी घी, मूसली, अश्वगंधा, बादाम, खरबूजे के बीज, नारियल गिरि, जावित्री, जायफल, इलायची, लौंग, दालचीनी व बूरा या खांड चाहिए.