इस महामारी से निपटने के लिए आगे आया Google, देगा 80 करोड़ डॉलर की मदद

इस महामारी से निपटने के लिए आगे आया Google, देगा 80 करोड़ डॉलर की मदद

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी ने संसार पर गंभीर असर डाला है। इससे निपटने के लिए हर दिन सरकारें (governments),  संगठन (organizations) व लोग मुमकिन कदम उठा रहे हैं।

 कोरोनो वायरस के विरूद्ध लड़ाई के लिए गूगल (Google) व उसकी मूल कंपनी अल्फाबेट के मुख्य कार्यकारी ऑफिसर (CEO) सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने छोटे एवं मध्यम उद्यमों (small-medium size business), स्वास्थ्य संगठनों (health organizations) एवं सरकारों व स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का समर्थन करने के लिए 80 करोड़ डॉलर (करीब 5900 करोड़ रुपये) से अधिक की मदद देने की बात कही है।

सुंदर पिचाई ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। पिचाई ने अपने ब्लॉग पोस्ट में लिखा, ‘दुनियाभर में छोटे एवं मध्यम कारोबार को गूगल ऐड क्रेडिट के रूप में 34 करोड़ डॉलर मिलेंगे। ये राशि उन इकाइयों के लिए उपलब्ध होगी, जिनके एकाउंट पिछले एक वर्ष से एक्टिव हैं। '

बताया गया कि इसका नोटिफिकेशन उनके गूगल ऐड खाते पर नजर आएगा। इसके अलावा, दुनिया स्वास्थ्य संगठन (WHO) व 100 से ज्यादा सरकारी एजेंसियों को 25 करोड़ डॉलर की एडवरटाईजमेंट सहायता दी जाएगी। वहीं, NGO व बैंकों के लिए 20 करोड़ डॉलर का निवेश कोष बनाया जाएगा, जो एनजीओ व वित्तीय संस्थानों की मदद करेगा ताकि छोटे कारोबारों के लिए पूंजी की व्यवस्था की जा सके।

इसके अतिरिक्त पिचाई ने बाकी सहायता देने का वादा किया है। पिचाई लिखते हैं कि शोधकर्ताओं व अकादमिक संस्थानों को Google क्लाउड क्रेडिट में 20 मिलियन डॉलर दिया जा रहा है, क्योंकि वे संभावित उपचारों व टीकों का अध्ययन करते हैं, जरूरी डेटा को ट्रैक करते हैं व COVID -19 का मुकाबला करने के नए उपायों की पहचान करते हैं।

पिचाई ने ये भी बोला कि Google पर्सनल सुरक्षा उपकरणों (PPE) व ज़िंदगी रक्षक चिकित्सा उपकरणों के लिए उत्पादन क्षमता बढ़ाने में मदद करने के लिए प्रत्यक्ष वित्तीय सहायता व विशेषज्ञता का विस्तार कर रहा है। इस कोशिश में उपकरण निर्माताओं, वितरकों व सरकार के साथ कार्य करने वाले वेंटिलेटर के उत्पादन को सुविधाजनक बनाने के लिए Google, Verily व X सहित अल्फाबेट के कर्मचारी, इंजीनियरिंग, आपूर्ति श्रृंखला व स्वास्थ्य सेवा विशेषज्ञता ला रहे हैं।