पैन कार्ड को आधार से लिंक करना जरूरी, वरना देना होगा हजारों का जुर्माना

पैन कार्ड को आधार से लिंक करना जरूरी, वरना देना होगा हजारों का जुर्माना

आज के समय में अधिकांश लोगों के पास पैन कार्ड (PAN Card) है. ये कार्ड सभी के लिए महत्वपूर्ण हो गया है क्योंकि वित्तीय लेन-देन में इसकी जरूरत पड़ती है.

इसकी जरूरत इनकम टैक्स विभाग के भुगतान से लेकर बैंक तक के कामों में पड़ती है. अब वित्त मंत्रालय ने इसके लिए नयी पॉलिसी की घोषणा की है जिसके अनुसार PAN (Permanent account number) कार्ड को आधार कार्ड से लिंक (Link PAN Card and Aadhar Card ) करना जरूरी कर दिया गया है. यदि आपने जल्द ही ऐसा नहीं किया तो हजारों का भुगतान करना पड़ सकता है.


क्या है नयी नीति?

वित्त मंत्रालय की नयी पॉलिसी के अनुसार, पैन कार्ड को आधार कार्ड (Aadhaar Card) से लिंक करना आवश्यक है. इसकी आखिरी तिथि 31 मार्च 2022 है. यदि कोई आदमी ऐसा करने में विफल रहा तो पैन कार्ड को निष्क्रिय (डीएक्टीवेट) घोषित कर दिया जाएगा.

कैसे करें पैन कार्ड को आधार से लिंक ?

अपने पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करने के लिए आपको सबसे पहले इनकम टैक्स विभाग की आधिकारिक वैबसाइट पर जाना होगा. यहाँ आप "Request For New PAN Card / Changes/ Correction in PAN Data" विकल्प पर क्लिक करें. इसके बाद एक फॉर्म डाउनलोड होगा जिसे भरने के बाद आप इसे NSDL कार्यालय में जमा करें. इसके बाद आगे की प्रक्रिया आपको यहाँ से समझा दी जाएगी.

डीएक्टीवेट पैन कार्ड के इस्तेमाल पर लगेगा जुर्माना

यदि कोई आदमी डीएक्टीवेट पैन कार्ड का इस्तेमाल करता है तो उसके विरूद्ध आयकर एक्ट की धारा 272 B के अनुसार एक्शन लिया जाएगा. इस एक्ट के अनुसार दोषी आदमी को 10 हजार तक का जुर्माना भी भरना पड़ेगा.

दो पैन कार्ड रखने वालों के विरूद्ध एक्शन

इसके साथ ही ये भी बोला गया है कि एक आदमी के पास केवल एक ही पैन कार्ड होना चाहिए. इससे अधिक होने पर एक्शन लिया जा सकता है और वित्तीय लेन-देन पर रोक लग जाएगी.

दो पैन कार्ड होने पर क्या करें ?

यदि किसी आदमी के पास एक से अधिक पैन कार्ड है तो वो इसे इनकम टैक्स विभाग में जमा कर सकते हैं. Income Tax Act 1961 के Section 272B ऐसा करने की अनुमति देता है जिसके लिए एक फॉर्म भी भरना पड़ेगा.


सावधान! Jio यूजर्स के बैंक खातों में सेंध लगा रहे साइबर क्रिमिनल्स, यहां जाने कैसे करें बचाव?

सावधान! Jio यूजर्स के बैंक खातों में सेंध लगा रहे साइबर क्रिमिनल्स, यहां जाने कैसे करें बचाव?

Jio Scam Alert :देश में साइबर फ्रॉड (Cyber Fraud) के मुद्दे तेजी से बढ़ रहे हैं। साइबर क्रिमिनल्स (Cyber Criminals) रोज भिन्न-भिन्न उपायों से लोगों के बैंक खातों (Bank Account) में सेंध लगा रहे हैं।

कभी बैंक ऑफिसर बनकर केवाईसी (KYC) के नाम पर तो कभी नौकरी (Job) के नाम पर। पिछले कुछ दिनों से ठग जियो (Jio) के कस्टमर को e-KYC के नाम पर चूना लगा रहे हैं। इस तरह के कई मुद्दे सामने आ चुके हैं। लगातार मिलती शिकायतों के बाद रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने अब अपने ग्राहकों को एक अलर्ट जारी किया है। इसमें इस तरह के फ्रॉड (Fraud) से बचने के टिप्स भी दिए गए हैं। आइए जानते हैं किस तरह हो रही है जियो कस्टमर से ठगी और इससे कैसे बच सकते हैं।

इस तरह हो रही है ठगी

अभी तक ठगी के कई ऐसे केस सामने आए हैं, जिनमें यूजर्स के पास एक कॉल (Call) आती है और कॉल करने वाला स्वयं को जियो का एग्जिक्यूटिव बताता है। वह e-KYC न कराने पर सिम (Sim) बंद होने की बात कहता है। कॉल करने वाला घर बैठे औनलाइन ही केवाईसी (Online KYC) करने का झांसा देता है। इसके बाद वह लिंक (Link) भेजकर, रिमोट ऐप (Remote App) डाउनलोड कराके या फिर ओटीपी (OTP) के जरिए यूजर्स के बैंक एकाउंट (Bank Account) में सेंध लगा देता है।

इस तरह कर सकते हैं बचाव

इस तरह की ठगी से बचने के लिए सतर्कता महत्वपूर्ण है। रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने भी इस विषय में कस्टमर्स को चेतावनी देते हुए कुछ टिप्स भी दिए हैं।

1. e-KYC के झांसे में न आएं

ग्राहकों को अलर्ट जारी करते हुए जियो ने बोला है कि e-KYC वैरिफिकेशन (Verification) के लिए आने वाले किसी भी कॉल (Call) या मैसेज (Message) पर ध्यान न दें। इस तरह के कॉल या मैसेज में आपको एक नंबर पर कॉल करने के लिए बोला जाता है और इसके बाद आपको झांसे में लेकर ठगी की जाती है। ऐसे में इस तरह केवाईसी (KYC) के चक्कर में न पड़ें। यदि केवाईसी करानी है तो जियो स्टोर (Jio Store Near Me) पर ही जाएं।

2. KYC के लिए कोई भी ऐप न करें डाउनलोड

ठग पहले आपको भरोसे में लेते हैं और फिर KYC अपडेट करने के बहाने आपसे एक ऐप डाउनलोड (App Download) करने को कहते हैं। यह रिमोट ऐप (Remote App) होता है, जिससे आपके फोन का एक्सेस उन्हें मिल जाता है और फिर वह रुपये ट्रांसफर कर लेते हैं। इसलिए यदि ऐसी कोई भी कॉल आए और आपसे ऐप डाउनलोड करने को बोला जाए तो उसे नजरअंदाज करें।

3. कॉल पर किसी को भी न दें पर्सनल और महत्वपूर्ण जानकारी

रिलायंस (Reliance) ने अपने कस्टमर से ये भी अपील की है कि वे अपनी पर्सनल और महत्वपूर्ण जानकारी जैसे आधार नंबर (Adhar), ओटीपी (OTP), बैंक एकाउंट नंबर (Bank Account) आदि को किसी से भी शेयर न करें। इस तरह के कई केस आए हैं जिनमें ठगों ने स्वयं को जियो का कस्टमर केयर ऑफिसर बताकर ऐसी डिटेल्स लेकर ठगी की है।

4. कनेक्शन बंद होने के झांसे में न आएं

कंपनी ने ये भी बोला है कि यदि आपके पास आपका नंबर बंद होने के विषय में कोई कॉल या मैसेज आए तो सावधान होने की आवश्यकता है। ऐसे मैसेज में यदि किसी नंबर का जिक्र हो और उस पर कॉल करने को बोला जाए तो समझ लीजिए कि वह फ्रॉड (Fraud) है। इस तरह सिम (SIM) बंद नहीं होता, यदि सिम बंद भी हो जाता है तो आप जियो सर्विस पॉइंट पर जाकर उसे सक्रिय ेट (SIM Activate) करा सकते हैं।

5. किसी अनजान लिंक पर क्लिक न करें

जियो ने ग्राहकों से किसी अनजान लिंक (Link) पर क्लिक (Click) न करने की भी अपील की है। इस तरह के लिंक e-KYC के नाम पर भेजे जाते हैं। इसमें कस्टमर से बोला जाता है कि आपको लिंक पर क्लिक करके घर बैठे केवाईसी (KYC) की सुविधा मिल जाएगी। कंपनी का बोलना है कि कंपनी या उसके ऑफिसर कभी भी कस्टमर्स को My JIo ऐप के अतिरिक्त किसी अन्य थर्ड पार्टी ऐप को डाउनलोड करने के लिए नहीं कहेगा।