SpiceJet ने पटना, सिलीगुड़ी, दरभंगा और अमृतसर के लिए शुरू की फ्लाइट

SpiceJet ने पटना, सिलीगुड़ी, दरभंगा और अमृतसर के लिए शुरू की फ्लाइट

SpiceJet ने पटना से सिलीगुड़ी (Bagdogra airport) के लिए अपनी नॉन-स्टॉप फ्लाइट शुरू किया है। एयरलाइन मुंबई के रास्ते Darbhnaga और Amritsar के बीच भी एक उड़ान शुरू कर चुकी है। सिलीगुड़ी में बागडोगरा हवाई अड्डे के लिए उड़ान शुरू होने के साथ ही जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से रोजाना उड़ान भरने की संख्या बढ़ाकर 15 कर दिया जाएगा। एयरलाइन के अधिकारियों के अनुसार, सिलीगुड़ी की उड़ान मंगलवार, गुरुवार, शनिवार और रविवार को संचालित होगी।

SpiceJet ने अपने ट्विटर हैंडल से इस बात की जानकारी दी। कंपनी ने ट्वीट के जरिये बताया, 'गोल्डन सिटी को भी अब रेड, होट कनेक्शन मिल गया है। स्पाइसजेट को यह बताने में खुशी हो रही है कि अब अमृतसर से मुंबई के बीच सीधी फ्लाइट्स आज यानी मंगलवार 20 जुलाई से चलने शुरू हो गई हैं। इसके अलावा बागडोगरा, चेन्नई और दरभंगा के बीच नॉनस्टॉप फ्लाइट्स चलेंगी।

पटना से फ्लाइट खुलने का समय और आने का समय

flight SG-3725 पटना से दोपहर 3.05 बजे उड़ान भरेगी और शाम 4.10 बजे बागडोगरा पहुंचेगी। वापसी पर यह पटना एयरपोर्ट पर शाम 5.55 बजे पहुंचेगी। एक तरफ की यात्रा का समय एक घंटे पांच मिनट में पूरा होगा। स्पाइसजेट ने हाल ही में कोलकाता, सूरत और बेंगलुरु रूट पर तीन उड़ानें शुरू की हैं।


अमृतसर, दरभंगा

अमृतसर से रोजाना की फ्लाइट दोपहर 3.50 बजे दरभंगा पहुंचेगी। इसके बाद दरभंगा हवाई अड्डे से संचालित होने वाली उड़ानों की संख्या 10 से बढ़कर 11 हो जाएगी।

पटना एयरपोर्ट से कहां के लिए मिलती हैं फ्लाइट

पटना हवाई अड्डा से मौजूदा समय में दिल्ली, मुंबई, पुणे, बेंगलुरु, सूरत, कोलकाता, लखनऊ, हैदराबाद, अहमदाबाद, गुवाहाटी, चेन्नई और अमृतसर सहित विभिन्न नॉन-स्टॉप रूट पर 35 फ्लाइट का संचालन होता है।


निर्यात में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, जुलाई के शुरुआती तीन सप्ताह में 45 फीसद की बढ़ोतरी

निर्यात में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, जुलाई के शुरुआती तीन सप्ताह में 45 फीसद की बढ़ोतरी

चालू वित्त वर्ष में निर्यात में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी है। जुलाई के शुरुआती तीन सप्ताह में वस्तुओं के निर्यात में पिछले वर्ष समान अवधि के मुकाबले 45.13 फीसद की बढ़ोतरी दर्ज की गई। वर्ष 2019 की समान अवधि के मुकाबले यह बढ़ोतरी 25.42 फीसद की है। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल-जून, 2021) में 95.39 अरब डालर का निर्यात किया गया जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 85 फीसद और वर्ष 2019 की समान अवधि के मुकाबले 17.90 फीसद अधिक है।

पिछले वर्ष अप्रैल-जून में 51.32 अरब डालर का निर्यात किया गया, जो वर्ष 2019 के अप्रैल-जून में 80.91 अरब डालर का था। कोरोना की दूसरी लहर के बावजूद अप्रैल से वस्तुओं के निर्यात में दहाई अंकों की बढ़ोतरी का सिलसिला जारी है।वाणिज्य मंत्रालय के मुताबिक इस वर्ष जुलाई के शुरुआती तीन सप्ताह (21 जुलाई तक) में 22.48 अरब डालर का निर्यात किया गया जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में यह 15.49 अरब डालर का था। वर्ष 2019 के जुलाई के शुरुआती तीन सप्ताह में 17.92 अरब डालर का निर्यात हुआ था।

इस वर्ष समीक्षाधीन अवधि में आयात में पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 64.82 फीसद बढ़कर 31.77 अरब डालर पर पहुंच गया। वर्ष 2019 की समान अवधि में 25.77 अरब डालर का आयात किया गया था। वहीं, चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही का आयात पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही के मुकाबले 108 फीसद बढ़कर 126.15 अरब डालर हो गया। चालू वित्त में तेजी को देखते हुए वाणिज्य व उद्योग मंत्रालय ने 400 अरब डालर के निर्यात का लक्ष्य रखा है।