सेविंग खाते में जमा रकम पर नहीं मिल रहा अच्‍छा रिटर्न , Senior Citizen के बारे में सोचे सरकार : SBI

सेविंग खाते में जमा रकम पर नहीं मिल रहा अच्‍छा रिटर्न , Senior Citizen के बारे में सोचे सरकार : SBI

देश के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के अर्थशास्त्रियों ने कहा है कि खुदरा जमाकर्ताओं (Retail depositors) को बैंकों में जमा अपने पैसे पर मिलने वाले ब्याज में नुकसान (earning negative returns) हो रहा है और इसलिए उन्हें मिलने वाले ब्याज पर करों की समीक्षा करने की जरूरत है।

Senior Citizen के बारे में सोचे सरकार

सौम्य कांति घोष (Soumya Kanti Ghosh) के नेतृत्व में अर्थशास्त्रियों द्वारा लिखे एक नोट में कहा गया कि अगर सभी जमाकर्ताओं (depositors) के लिए संभव न हो तो कम से कम वरिष्ठ नागरिकों द्वारा जमा की जाने वाली रकम (Senior Citizens Saving Bank Deposit Interest) के लिए कराधान (Taxation) की समीक्षा की जानी चाहिए क्योंकि वे अपनी रोजमर्रा की जरूरतों के लिए इसी ब्याज पर निर्भर करते हैं। उन्होंने कहा कि पूरी बैंकिंग व्यवस्था (Whole Banking System) में कुल मिलाकर 102 लाख करोड़ रुपये जमा हैं।

40 हजार से ज्‍यादा ब्‍याज आय पर कटता है TDS

वर्तमान में, बैंक सभी जमाकर्ताओं (Depositor) के लिए 40,000 रुपये से ज्‍यादा की ब्याज आय देते समय स्रोत पर कर काटते (Tax dedcution at source) हैं, जबकि वरिष्ठ नागरिकों के लिए आय 50,000 रुपये प्रति वर्ष से अधिक होने पर कर निर्धारित किया जाता है। चूंकि नीति का ध्यान वृद्धि की तरफ चला गया है, प्रणाली में ब्याज दरें नीचे जा रही हैं जिससे जमाकर्ता (Bank Depositor) प्रभावित हो रहे हैं।

 
बैंक ब्‍याज के रूप में खास रिटर्न नहीं

नोट में कहा गया, "स्पष्ट रूप से, बैंक जमा पर मिलने वाले ब्याज (return on bank deposits) की वास्तविक दर एक बड़ी अवधि के लिए नकारात्मक रही है और रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने यह पूरी तरह साफ कर दिया है कि प्राथमिक लक्ष्य बढ़ोतरी में मदद करना है, भरपूर तरलता बने रहने के चलते कम बैंकिंग ब्याज दर के निकट भविष्य में बढ़ने की संभावना नहीं है।" इसमें यह भी कहा गया कि प्रणाली में काफी तरलता होने के चलते इस समय बैंकों पर "मुनाफे को लेकर काफी दबाव" है।


1 अक्टूबर को भारत में लॉन्च होगा Moto Edge 20 सीरीज का नया स्मार्टफोन

1 अक्टूबर को भारत में लॉन्च होगा Moto Edge 20 सीरीज का नया स्मार्टफोन

स्मार्टफोन कंपनी मोटोरोला (Motorola) मोटो ऐज 20 सीरीज का टॉप-मॉडल मोटो ऐज 20 प्रो (Moto Edge 20 Pro) को 1 अक्टूबर के दिन भारत में लॉन्च करने जा रही है। इससे पहले मोटो ऐज 20 फ्यूजन (Moto Edge 20 Fusion) और मोटो ऐज 20 (Moto Edge 20) को भारतीय बाजार में उतारा गया था। मोटो ऐज 20 प्रो की बात करें तो यह डिवाइस दो स्टोरेज मॉडल में उपलब्ध होगा। इस डिवाइस में दमदार कैमरा और पावरफुल प्रोसेसर दिया जा सकता है।

Moto Edge 20 Pro की स्पेसिफिकेशन

मोटो ऐज 20 प्रो स्मार्टफोन में 6.7 इंच का फुल एचडी प्लस ओएलईडी डिस्प्ले होगा। इसका रिफ्रेश रेट 144Hz होगा। इसमें 32MP का फ्रंट कैमरा दिया जाएगा। इसके अलावा यूजर्स को स्मार्टफोन में क्वालकॉम का Snapdragon 870 प्रोसेसर मिल सकता है। वहीं, यह हैंडसेट लेटेस्ट एंड्राइड 11 ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करेगा।


Moto Edge 20 Pro स्मार्टफोन में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया जाएगा। इसमें 108MP का प्राइमरी सेंसर, 16MP का अल्ट्रा वाइड एंगल लेंस और 8MP का टेलीफोटो लेंस मौजूद होगा। इसके अलावा स्मार्टफोन में 4,500mAh की बैटरी मिलेगी, जो 30 वॉट फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करेगी। साथ ही इसमें कनेक्टिविटी के लिए वाई-फाई, जीपीएस, ब्लूटूथ और यूएसबी टाईप-सी पोर्ट जैसे फीचर दिए जाएंगे।

Moto Edge 20 Pro की संभावित कीमत


माय स्मार्ट प्राइस की रिपोर्ट की मानें तो Moto Edge 20 Pro स्मार्टफोन की कीमत 40,000 रुपये से ज्यादा रखी जा सकती है। इस डिवाइस को 12GB रैम + 256GB स्टोरेज ऑप्शन में उपलब्ध कराया जाएगा। फिलहाल, कंपनी की ओर से अभी तक इस स्मार्टफोन की कीमत को लेकर जानकारी नहीं दी गई है।

Moto Edge 20 Fusion की बात करें तो इसकी शुरुआती कीमत 21,499 रुपये है। Motorola Edge 20 Fusion में 6.7 इंच फुल एचडी प्लस डिस्प्ले है। यह स्मार्टफोन एंड्राइड 11 पर काम करता है। इस डिवाइस में MediaTeck 9800U 5G चिपसेट दी गई है। इसके अलावा स्मार्टफोन में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप मिलेगा। इसमें पहला 108MP का प्राइमरी सेंसर, दूसरा 8MP का अल्ट्रा वाइड एंगल लेंस और तीसरा 2MP का डेप्थ सेंसर है। जबकि फोन के फ्रंट में 32MP का कैमरा मिलेगा।