Apple अपने अगले AirPods में हेल्थ डाटा को मॉनिटर करने के लिए करेगा ये काम

Apple अपने अगले AirPods में हेल्थ डाटा को मॉनिटर करने के लिए करेगा ये काम

Apple अपने अगले ट्रू वायरलेस ईयरबड्स AirPods में नए विशेषता जोड़ने की तैयारी में है. कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से इस समय संसार भर में यूजर्स को स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. 

जिन लोगों का इम्यून सिस्टम (रोक प्रतिरोधक क्षमता) निर्बल है उनके लिए ये वायरस खतरा बना हुआ है. Apple अपने अगले AirPods में हेल्थ डाटा को मॉनिटर करने के लिए नए फीचर जोड़ने की तैयारी में है. Apple AirPods के जरिए उपभोक्ता के हेल्थ डाटा को इसके जरिए मॉनिटर किया जा सकेगा. Apple का सप्लायर ASE टेक्नोलॉजी नेक्स्ट जेनरेशन AirPods के लिए एम्बीएंट रोशनी सेंसर कंपनी को सप्लाई कर रहा है.

ASE टेक्नोलॉजी एम्बिएंट रोशनी सेंसर बनाता है जो कि स्टेप काउंट, हेड मूवमेंट व हॉर्ट रेज आदि को मॉनिटर कर सकता है. ASE टेक्नोलॉजी Apple के अगले ईयरफोन्स के लिए सिलिकॉन पैकेजिंग को अप्लाई करने वाला है जिसे उसने पिछले डिवाइस के लिए किया था. इसकी मदद से हार्ट रेट, स्टेम काउंट्स व हेल्थ कंडीशन्स को मॉनिटर किया जा सकेगा. साथ ही, ये ईयरफोन हेड मूवमेंट को मॉनिटर करके इंटेलिजेंट ट्रांसलेशन भी कर सकेगा.

पहले भी Apple ने अपने Earphones के लिए हेल्थ मॉनिटरिंग सिस्टम को पेटेंट करवाया था, जिसमें रोशनी सेंसर के जरिए हार्ट रेट को मॉनिटर किया जा सकता है. Apple एनालिस्ट मिंग-ची-कुओ ने पहले भी ये खुलासा किया था कि iPhone बनाने वाली कंपनी Apple 2021 की पहली तिमाही मेंAirPodsके तीसरे जेनरेशन का मास प्रोडक्शन करने वाला है. कुओ ने ये भी खुलासा किया है कि सेकेंड जेनरेशन के AirPods Pro को अभी लॉन्च होने में बहुत ज्यादा समय है. इसका मास प्रोडक्शन 2021 के आखिर में होने कि सम्भावना है व इसे 2022 की पहली तिमाही में लॉन्च किया जा सकता है. वहीं, Apple अपनेAirPodsके लाइटर वर्जन को अगले महीने लॉन्च कर सकता है. इसके साथ MacBook Pro 2020 को भी लॉन्च किया जा सकता है.